एन जी सी 5584: हब्बल स्थिरांक की गणना


एन जी सी 5584

एन जी सी 5584

खूबसूरत आकाशगंगा एन जी सी 5584 यह 50,000 प्रकाशवर्ष चौडी़ है और पृथ्वी से 720 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर कन्या नक्षत्र मे स्थित है। इस महाकाय आकाशगंगा की पेंचदार बांहो मे ढेर सारे नये नवजवान तारे तथा धूल से भरी गलीयां है। यह आकाशगंगा पृथ्वी की ओर से स्पष्ट दिखायी देने वाली एक और खूबसूरत आकाशगंगा ही नही है। इसमे लगभग 250 सेफीड चर तारे(Cepheid Variable Star) है तथा हाल ही मे इसमे एक Ia प्रकार(Type Ia) का सुपरनोवा विस्फोट हुआ है।

सेफीड तारे अपने स्थायी एक समान चमक तथा स्थायी प्रकाश स्पंदन(Light Pulse) के लीये जाने जाते है, इस विशेष गुणधर्म से उन्हे ब्रह्मांड मे दूरीयों की गणनाओ के लिए मानक ज्योति (Standard Candle) के रूप मे उपयोग किया जाता है।

एन जी सी 5584 हब्बल स्थिरांक की नयी गणना के लिये चूनी गयी आठ आकाशगंगाओ मे से एक है। इस गणना के लिए आवश्यक निरिक्षण हब्बल दूरबीन द्वारा किया जा रहा है। इस गणना का परिणाम श्याम ऊर्जा(Dark Energy) द्वारा ब्रह्माण्ड के विस्तार की गति मे त्वरण(accleration) पर नयी रोशनी डालेगा।

इस चित्र मे दिखायी दे रहे लाल धब्बेनुमा बिंदू पृष्ठभूमि स्थित दूरस्थ आकाशगंगाएँ है।

Advertisements

2 विचार “एन जी सी 5584: हब्बल स्थिरांक की गणना&rdquo पर;

इस लेख पर आपकी राय:(टिप्पणी माड़रेशन के कारण आपकी टिप्पणी/प्रश्न प्रकाशित होने मे समय लगेगा, कृपया धीरज रखें)

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s