इंटीरियर एक्सप्लोरेशन यूजिंग सिस्मिक इन्वेस्टिगेशंस

नासा का मंगलयान ’इनसाइट ’ मंगल पर उतरा


नासा का रोबोटिक मंगलयान (मार्स लैंडर) “इंटीरियर एक्सप्लोरेशन यूजिंग सिस्मिक इन्वेस्टिगेशंस” 26 नवंबर 2018 सोमवार रात 1:24 बजे मंगल ग्रह पर सफलता पूर्वक उतर गया। नासा के अनुसार पहली बार प्रायोगिक उपग्रहो ने किसी अंतरिक्ष यान का पीछा करते हुए उस पर नजर रखी। इस पूरे अभियान पर 99.3 करोड़ डॉलर (करीब 7044 करोड़ रुपए)…

मंगल की यात्रा पर मानव उत्सुकता (मंगल शोध वाहन ’क्यूरियोसिटी ’)


अमरीका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने शनिवार 26, नवंबर 2011 को मंगल ग्रह पर अब तक का अपना सबसे उत्कृष्ट रोबोटिक रोवर को भेज दिया है। रोबोटिक रोवर क्यूरियोसिटी को फ्लोरिडा के केप कैनावेरल से एक एटलस रॉकेट के ज़रिये अंतरिक्ष में भेजा गया। ‘रोबोटिक रोवर‘ यानी रोबोट के समान एक मशीन है जो अंतरिक्ष…

मंगल पर धूल के तूफ़ान कुछ ही घंटों में उठ सकते हैं और पूरे ग्रह को कई दिनों पर अपनी चपेट में ले लेते हैं।

मंगल ग्रह पर “आपर्च्युनिटी” के सात वर्ष


लाल ग्रह मंगल की सतह पर सात वर्ष पूरे करने के बाद मंगल अण्वेषण वाहन “आपर्च्युनीटी” ९० मीटर चौड़े सांता मारिया क्रेटर के किनारे खड़ा है। आश्चर्यजनक रूप से “आपर्च्युनीटी” और उसके जुड़वा “रोवर स्प्रिट” को केवल ३ महीने लंबे प्राथमिक अभियान के लिये २००३ भेजा गया था, सात वर्ष पूरे करने के बाद भी…