अपवर्तक (Refractor) दूरबीन

खगोल भौतिकी 3 : दूरबीनो की कार्यप्रणाली का परिचय


लेखिका:  सिमरनप्रीत (Simranpreet Buttar) आज हम जानते है कि हमारे आसपास का विश्व कैसा दिखता है, हम जानते हैं कि हमारा ब्रह्मांड कितना सुंदर है, हमने तेजस्वी देदीप्यमान सुपरनोवा देखे है और हमारे पास ब्लैकहोल का सबसे पहला चित्र है। सब कुछ हमारी दूरबीनों की बदौलत! हम निर्विवादित रूप से कह सकते है कि खगोलशास्त्र…

गैलेलियो की दूरबीन

दूरबीन की विकासयात्रा: साधारण प्रकाशीय दूरबीनों से अंतरिक्ष दूरबीनों तक


लेखक -प्रदीप सदियों से  ब्रह्माण्ड मानव को आकर्षित करता रहा  है। इसी आकर्षण ने खगोल वैज्ञानिकों को ब्रह्माण्डीय प्रेक्षण और ब्रह्माण्ड अन्वेषण के लिए प्रेरित किया। रात के समय यदि हम आसमान में दिखाई देने वाले तारों का अवलोकन करते हैं, तो हमे दूरबीन के बिना भी कुछ बातें शीघ्र स्पष्ट होने लगती हैं। मगर,…