800px-Pleiades_large

आसमान मे सात बहने : कृ्तिका नक्षत्र


यह चित्र एक जा्ने पहचानने तारामंडल का है। यह 27 नक्षत्रो मे से एक ’कृत्तिका’ नक्षत्र है। पश्चिम मे इसे ’सेवन सीस्टर्स(सात बहने)’ के नाम से जाना जाता है। यह तारामंडल हर सभ्यता द्वारा जाना जाता रहा है। न्युजीलैंड के माओरी आदिवासी इसे मातारीकी कहते है, मध्यपूर्व एशीया मे इसे ‘परवीन’ के नाम से जाना…

पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण तथा घूर्णन द्वारा "समय-अंतराल’ मे आयी विकृति

आइन्स्टाइन के सिद्धांत के दो प्रमुख पूर्वानुमानों की पुष्टि : ग्रैविटी प्रोब बी


आइंस्टाइन के सामान्य सापेक्षतावाद के सिद्धांत के कुछ पूर्वानुमान लगभग 100 वर्ष पश्चात प्रमाणित हो रहे है। 20 अप्रैल 2004 को डेल्टा 2 राकेट से एक अंतरिक्ष उपग्रह ग्रेवीटी प्रोब बी (गुरुत्वाकर्षण जांच बी) का प्रक्षेपण किया गया था। यह अभियान नासा का सबसे लंबे अंतराल तक चलने वाला अभियान है। इस अभियान की शुरूवात 1959 मे ही हो गयी थी जब एम आई…

NASA_Mars_Rover SPIRIT

मंगल शोध वाहन ’स्पिरिट’ के अभियान का अंत: अलविदा ’स्पिरिट’!


नासा ने एक वर्ष तक “स्पिरिट” (मगंल ग्रह शोध वाहन) से पुनः संपर्क स्थापित करने के असफल प्रयासो के पश्चात इस अभियान को बंद करने का निर्णय लिया है। 4 जनवरी 2004 को प्रक्षेपित स्पिरिट वाहन अब सभी प्रायोगिक कारणो से ’मृत’ है। स्पिरिट वाहन से अंतिम संदेश मार्च 2010 मे प्राप्त हुआ था, उस समय मंगल…

ngc7049

धूल के बादलो से रेखांकित आकाशगंगा एन जी सी 7049


इस असामान्य आकाशगंगा का निर्माण कैसे हुआ होगा? यह कोई नही जानता है क्योंकि यह पेंचदार(Spiral) आकाशगंगा एन जी सी 7049 है ही इतनी विचित्र! एन जी सी 7049 मे सबसे विचित्र एक धूल और गैस का वलय है हो इस आकाशगंगा के बाह्य रूपरेखा मे दिख रहा है। यह धूल का वलय जैसे इस आकाशगंगा के…

पदार्थ और प्रतिपदार्थ (हायड्रोजन और प्रति हायड्रोजन)

प्रति पदार्थ(Anti matter):ब्रह्माण्ड की संरचना भाग 9


प्रकृति(१) ने इस ब्रह्माण्ड मे हर वस्तु युग्म मे बनायी है। हर किसी का विपरीत इस प्रकृति मे मौजूद है। भौतिकी जो कि सारे ज्ञान विज्ञान का मूल है, इस धारणा को प्रमाणिक करती है। भौतिकी की नयी खोजों ने सूक्ष्मतम स्तर पर हर कण का प्रतिकण ढूंढ निकाला है। जब साधारण पदार्थ का कण प्रतिपदार्थ के कण से टकराता है दोनो…

गुरुत्विय लेंस द्वारा किसी प्रकाश श्रोत की चमक मे बढोत्तरी

अंतरिक्ष मे भटकते बंजारे : बृहस्पति के आकार के आवारा ग्रह


वर्षो से हमारी आकाशगंगा ’मंदाकिनी’ के केन्द्र के निरिक्षण मे लगे खगोलविज्ञानियो ने एक नयी खोज की है। इसके अनुसार हमारी आकाशगंगा मे अरबो बृहस्पति के आकार के ’आवारा ग्रह’ हो सकते है जो किसी तारे के गुरुत्वाकर्षण से बंधे हुये नही है। एक तथ्य यह भी है कि ऐसे आवारा ग्रहो की संख्या आकाशगंगा के तारों की…

endeavour

अमरीकी अंतरिक्ष यान ‘एंडेवर’ की अंतिम उड़ान


अमरीकी अंतरिक्ष यान ‘एंडेवर‘ सोमवार 16 मई 2011 की सुबह फ़्लोरिडा के कैनेडी स्पेस सैंटर से अपने अंतिम मिशन पर रवाना हो गया। ये यान ‘अल्फ़ा मैग्नेटिक स्पैक्टोमीटर(Alpha Magnetic Spectrometer)‘ नाम के  कण भौतिकी उपकरण(Particle Physics  experiment module) को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र में पहुंचाएगा। इस अंतिम मिशन में ‘एंडेवर’ जो ‘अल्फ़ा मैग्नेटिक स्पेक्टोमीटर‘ ले गया है…